Posted By

अखिलेश सरकार में लोकतंत्र एवं मौलिक अधिकारों की हत्या – गिरीश पाण्डेय लखनऊ 25 अगस्त 2015 दिन मंगलवार: पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार आज प्रदेश भर से आयी महिला आॅगनबाड़ी कर्मी वर्षो से लम्बित अपनी मांगो को पूरा कराने के लिए हजारो की संख्या में बाल विकास सेवा एवं पुष्टाहार निदेशालय पर धरना देने के… Read More

Posted By

भारत सरकार ने हाल ही में सामाजिक, आर्थिक एवं जाति जनगणना (एस ई सी सी), 2011 में हासिल हुई कुछ जानकारी को सार्वजनिक किया। यह जानकारी मुख्य रूप से ग्रामीण भारत में आय स्तर, जीवन स्तर और भूमि स्वामित्व के स्वरूप को दर्शाती है। लेकिन यह जानकारी अधूरी है, और एस ई सी सी में… Read More

Posted By

The Indian government recently released data from the socio-economic and caste census (SECC), 2011. The data mostly relates to incomes, standards of living and land-ownership patterns in rural India. However, this data is incomplete, and the most crucial aspects of the SECC, which relate to the caste composition of the Indian population, are yet to… Read More

Posted By

सोशलिस्ट युवजन सभा WTO के जरिए उच्च शिक्षा पर अब तक के सबसे बड़े हमले का विरोध करती है । भारत सरकार ने उच्च शिक्षा क्षेत्र को वैश्विक बाज़ार के लिए खोलने का मन बना लिया है। यही वजह है कि WTO के पटल पर प्रस्ताव भी रख दिया गया है। WTO में रखे गए… Read More

Posted By

In the Chunar Tehsil of Mirzapur District illegal stone crushing, cutting and pokland machines have been operating on a massive scale and quite blatantly. Blasting occurs daily in the hills to loosen the stones. With the help of Socialist Party (India) a local resident Parasnath Yadav filed an application under the Right to Information Act,… Read More

Posted By

The decision by IIT Madras to derecognise Ambedkar Periyar Student Circle is condemnable as it is clear violation of freedom of speech and expression, to form association or unions and to assemble peaceably and without arms as part of Article 19 of the Constitution of India. Criticising government policies like use of Hindi and ban… Read More

Posted By

The Socialist Party states that in the last one year Prime Minister Narendra Modi, while heading the majority government, has done the task of giving tax exemption to selling out of country’s invaluable natural and labour resources to national and international corporate houses faster than the last Congress led UPA government. The ‘Man ki Baat’… Read More

Posted By

सोशलिस्ट पार्टी का मानना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी पूर्ण बहुमत वाली सरकार के मार्फत पिछले एक साल में देशी-विदेशी कारपोरेट घरानों को करों से लेकर देश के बेशकीमती संसाधनों और श्रम को लुटाने का काम पिछली कांग्रेसनीत यूपीए सरकार से ज्यादा तेजी से किया है। प्रधानमंत्री बार-बार जो ‘मन की बात’ सरकारी… Read More

Posted By

26 मई 2015 को नरेन्द्र मोदी सरकार का एक वर्ष पूरा हो गया। एक साल के भीतर उन्होने दो दर्जन देशो का दौरा किया और इस विदेशी दौरे मे तीन सौ करोड़ रूपये खत्म हुये और भारत को तीन पैसे का लाभ नहीं पहुॅचा। प्रधानमंत्री की सबसे महत्वपूर्ण यात्रा चीन की यात्रा थी। उनकी यात्रा… Read More