Posted by

Political Resolution of the Socialist Party (India) passed in the 4th National Convention held in Lucknow on 14-15 November 2016 Most of the established parties do all sorts of things to grab power during state and center elections. False promises, personal allegations and counter-allegations, communal tension, casteism, regionalism, lingualism, individualism, dynasty politics, money & muscle… Read More

Posted by

जनता की तकलीफ की राजनीति प्रेम सिंह पिछले दिनों लिए गए विमुद्रीकरण के फैसले पर छिड़ी बहस में फैसले से साधारण जनता को होने वाली तकलीफ का जिक्र कई रूपों में बार-बार हो रहा है। इस औचक फैसले से साधारण जनता को होने वाली तकलीफ की शिकायत उच्च एवं उच्चतम न्यायालय ने भी की है।… Read More

Posted by

Whether it is the child of rich or poor, all should receive same education. – Dr. Ram Manohar Lohia INDEFINITE FAST BY SOCIALIST PARTY (INDIA) FROM 24 NOVEMBER, 2016 AT GANDHI STATUE, LUCKNOW WITH FOLLOWING DEMANDS · Common School System should be implemented, · 18th August, 2015 High Court judgment of Justice Sudhir Agarwal that… Read More

Posted by

सोशलिस्‍ट पार्टी (इंडिया) चौथा राष्‍ट्रीय सम्‍मेलन 14-15 नवंबर 2016 स्‍थान गंगाप्रसाद मेमोरियल हाल, लोकबंधु राजनारायण नगर, लखनऊ  राजनीतिक प्रस्ताव देश में लोकसभा चुनाव हों या राज्यों की विधानसभाओं के चुनाव, ज्‍यादातर स्थापित राजनीतिक दल किसी भी तरह देश की सत्ता पर काबिज होने की होड़ लगाते हैं। झूठे वायदों, व्यक्तिगत आरोप-प्रत्यारोप, सांप्रदायिक उन्माद, जातिवाद, भाषावाद,… Read More

Posted by

नरेन्द्र मोदी अधिकतम आय की सीमा क्यों नहीं तय करते? यदि रु. 500 और 1000 के नोटों को वापस लेने के निर्णय का मुख्य उद्देष्य काले धन पर अंकुष लगाना था तो पुनः उतने ही बड़े रु. 500 और 2000 के नोटों को बाजार में लाने का उद्देष्य समझ में नहीं आया? बड़े नोटों को… Read More

Posted by

भारत में उच्च षिक्षा की दयनीय स्थिति किसी भी देष में उच्च षिक्षा की नींव विद्यालयी स्तर की षिक्षा की गुणवत्ता पर पड़ती है। हमारे देष में 1968 के कोठरी आयोग की समान षिक्षा प्रणाली की सिफारिष को नजरअंदाज कर धीरे धीरे, खासकर निजीकरण, उदारीकरण व वैष्वीकरण की नई आर्थिक नीति के लागू होने के… Read More

Posted by

STATE OF AFFAIRS OF HIGHER EDUCATION IN INDIA In a country which neglects its school education can we expect a good quality higher education programme? All the governments, since 1968 Kothari Commission recommendation of Common School System was made, have successfully evaded implementation of the idea. With the adoption of policies of privatization, globalization and… Read More

Posted by

Dated : 19/11/2016 MR. RAJINDAR SACHAR FORMER PRESIDENT OF PEOPLE UNION FOR CIVIL LIBERTIES HAS ISSUED THE FOLLOWING STATEMENT. The two-day 4th National Convention of the Socialist Party concluded in Lucknow (UP) on 15 November 2016. The party, in the convention, once again resolved to throw out the yoke of neo-imperialism imposed on the country… Read More

Posted by

16 नवंबर 2016 प्रेस रिलीज डॉ. प्रेम सिंह सोशलिस्‍ट पार्टी (इंडिया) के नए अध्‍यक्ष लखनऊ में आयोजित सोशलिस्‍ट पार्टी के चौथे राष्‍ट्रीय अधिवेशन (14-15 नवंबर 2016) में डॉ. प्रेम सिंह को दो साल के कार्यकाल के लिए पार्टी का नया अध्‍यक्ष चुना गया। अभी तक पार्टी के महासचिव और प्रवक्‍ता रहे डॉ. सिंह का चयन… Read More