Posted by

सोशलिस्ट पार्टी (इण्डिया) विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति द्वारा 9 फरवरी, 2015 को उत्तर प्रदेश पाॅवर काॅरपोरेशन लिमिटेड के मुख्यालय शक्ति भवन के सामने शांतिपूर्ण ढंग से दिए जा रहे धरना-प्रदर्शन पर पुलिस द्वारा लाठी चार्ज की भत्र्सना करती है। इसके जवाब में कर्मचारियों द्वारा जो हिंसा की गई, जिसमें पुलिस की एक जीप व… Read More

Posted by

Demands dialogue with contract employees. Socialist Party (India) condemns the repressive action by police on 9 February, 2015 in Lucknow against a peaceful demonstration of Vidyut Karamchari Sanyukta Sangharsh Samiti, a platform of 9 Trade Unions including Vidyut Mazdoor Panchayat, demanding regularisation of about 48,000 contract employees working under Contractor system, stopping the trend of… Read More

Posted by

by Rajindar Sachar BJP leaders speak in contradictory terms; PM’s denial not enough An unimaginable crisis has gripped our country. Only a straightforward, clear declaration by the Prime Minister can clear it. I am referring to the advertisement issued by the Government of India’s I.B. Ministry on the Republic Day carrying in the background a… Read More

Posted by

by Prem Singh Heard the Akashvani broadcast of the recognized, national political parties on 2nd February. In the broadcast of the Congress, CPI, CPM and NCP, the attempts to vitiate the communal atmosphere were primarily mentioned as well as the appeal to defeat the communal forces was made. Whatever else was said in the broadcast… Read More

Posted by

– प्रेम सिंह ‘‘इस वक्त समूची दुनिया में जो हो रहा है, वह शायद विश्‍व इतिहास की सबसे बड़ी प्रतिक्रांति है। यह संगठित है, विश्‍वव्‍यापी है और समाज तथा जीवन के हर पहलू को बदल देने वाली है। यहां तक कि प्रकृति और प्राणिजगत को प्रभावित करने वाली है। इक्कीसवीं सदी के बाद भी अगर… Read More

Posted by

– प्रेम सिंह दो फरवरी की शाम को आकाशवाणी से प्रसारित मान्यता प्राप्त राष्ट्रीय राजनीतिक दलों का चुनाव प्रसारण सुना। कांग्रेस, सीपीआई, सीपीएम और राष्ट्रवादी कांग्रेस के प्रसारणों में दिल्ली षहर में सांप्रदायिक माहौल बिगाड़ने की कोशिशों का प्रमुखता से जिक्र और सांप्रदायिक ताकतों को चुनाव में परास्त करने की अपील की गई थी। भाजपा… Read More

Posted by

– प्रेम सिंह इस लेख के लिए हम पर कई सेकुलर साथियों का कोप और तेज होगा। हम यह नहीं लिखते यदि पिछले करीब एक महीने में कई साथियों ने फोन पर और ईमेल भेज कर हमसे दिल्ली के विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी (आप) का समर्थन करने को नहीं कहा होता। उनमें कई… Read More

Posted by

दिल्ली में आने वाले विधानसभा चुनाव एक ऐसे वक्त में हो रहे हैं, जब पिछले साल ही केन्द्र में भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार बनकर आई है। मोदी सरकार नवउदारवादी नीतियों को उग्रतापूर्वक आगे ले जाने का काम कर रही है और कारपोरेटों से लोकसभा चुनावों में मिले समर्थन का जवाब उनके लिए बढ़े हुए… Read More

Posted by

The forthcoming Delhi Assembly elections are being held in the background of formation of the Modi led BJP central government last year. The Modi government is vehemently pushing forward the neo-liberal agenda as a kind of pay back to the corporates for their support in the elections. The Union Budget has provided big tax concessions… Read More

Posted by

by Prem Singh The Land Acquisition, Rehabilitation and Resettlement Act 2013 (LARR Act 2013) was enacted in the parliament after incorporating suggestions from the BJP and with its due support. Sumitra Mahajan, presently the speaker of the Lok Sabha, then had headed the Parliamentary Committee, which okayed the law. The LARR Act 2013 which came… Read More