दिल्ली में हुई हिंसा और निर्मम हत्या मानवता के प्रति अपराध है

दिल्ली में हुई हिंसा और निर्मम हत्या मानवता के प्रति अपराध है

दिल्ली शहर में हुई हिंसा में मारे गए लोगों को सोशलिस्ट पार्टी विनम्र श्रद्धांजलि देती है और उनके परिजनों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करती है । पार्टी इस हिंसा को मानवता के प्रति घोर अपराध करार देती है सोशलिस्ट पार्टी इस हिंसक वारदात की कड़े शब्दों में निंदा करती है

देश का बुद्धिजीवी मौन हैं

देश का बुद्धिजीवी मौन हैं

देश की राजधानी दिल्ली में कल से जाफराबाद में लगातार हिंसा की खबरे आ रही हैं | दिल्ली सरकार यह कहकर लगातार बच रही हैं की हम क्या कर सकते हैं पुलिस तो केंद्र सरकार के हाथ में हैं | क्या बुद्धिजीवी केजरिवाल से कुछ सवाल करेंगे |

शिक्षा व्यवस्था पर हो रहे हैं प्रहार : नीरज कुमार

शिक्षा व्यवस्था पर हो रहे हैं प्रहार : नीरज कुमार

भागलपुर सम्मेलन : दिन पर दिन बढ़ते जा रहा है दिल्ली यूनिवर्सिटी के शिक्षकों का प्रदर्शन, लेकिन अभी तक इस पर सरकार और प्रशासन की तरह से कोई भी ठोस कदम नहीं उठाया गया है। अब देखना यह होगा कि यह प्रदर्शन कब और किस मुकाम पर जा के रूकेगा।

राजनीतिक पराजय के बाद की पुकार!

राजनीतिक पराजय के बाद की पुकार!

प्रेम सिंह | यह अब छिपी सच्चाई नहीं है कि देश के बौद्धिक नेतृत्व ने नवसाम्राज्यवाद विरोधी राजनीति के स्वरूप और संघर्ष को मुकम्मल और निर्णायक नहीं बनने देने की ठानी हुई है.