जमीन की जंग

जमीन की जंग

(यह लेख 2009 का है. आपके पढ़ने के लिए फिर दिया जा रहा है.) जमीन लेंगे … और जान भी प्रेम सिंह जमीन की जंग खेत, जंगल, नदी-घाटी, पठार, पहाड़, समुद्र के गहरे किनारे – हर जगह जमीन की अंतहीन जंग छिड़ी है। यह जंग जमीन पर बसने और उसे हथियाने वालों के बीच उतनी […]

शिक्षा को निजी विद्यालयों के चंगुल से मुक्त कराने के लिए अनशन

शिक्षा को निजी विद्यालयों के चंगुल से मुक्त कराने के लिए अनशन

शिक्षा को निजी विद्यालयों के चंगुल से मुक्त कराने के लिए अनशन मुफ्त एवं अनिवार्य शिक्षा का अधिकार अधिनियम, 2009 में 25 प्रतिशत अलाभित एवं दुर्बल वर्ग के बच्चों के लिए अपने पड़ोस के किसी भी विद्यालय में कक्षा 1 से 8 तक निःशुल्क पढ़ने का अधिकार है। शैक्षणिक सत्र 2015-16 में लखनऊ के जिलाधिकारी […]

क्या चीन पाकिस्तान आर्थिक गलियारे से कश्मीर समस्या का समाधान निकल सकता है?

क्या चीन पाकिस्तान आर्थिक गलियारे से कश्मीर समस्या का समाधान निकल सकता है?

क्या चीन पाकिस्तान आर्थिक गलियारे से कश्मीर समस्या का समाधान निकल सकता है? नरेन्द्र मादी ने प्रधान मंत्री बनने के बाद पहले दो वर्ष में जो दुनिया के तमाम देशों के तूफानी दौरे किए उसमें उनकी काफी ऊर्जा इस बात में खर्च हुई कि पाकिस्तान को एक आतंकवादी राष्ट्र के रूप में चिन्हित करा उसे […]

CAN CHINA-PAKISTAN ECONOMIC CORRIDOR LEAD TO A SOLUTION OF KASHMIR CRISIS?

CAN CHINA-PAKISTAN ECONOMIC CORRIDOR LEAD TO A SOLUTION OF KASHMIR CRISIS?

CAN CHINA-PAKISTAN ECONOMIC CORRIDOR LEAD TO A SOLUTION OF KASHMIR CRISIS? A good part of Narendra Modi’s energy during his whirlwind international tours in the first two years after he became Prime Minister were spent in trying to convince the world leaders that Pakistan was a terrorist state and wanted the world to isolate it. […]

Why Does AAP not account for the spending of donations and government  funds?

Why Does AAP not account for the spending of donations and government funds?

Aam Aadmi Party’s latest controversy is worth noting. Once more, it has exposed the empty claims to fight corruption made by Anna Hazare, Arvind Kejriwal and their ilk have been making for over five years now. Before Kapil Sharma’s accusations, the Aam Aadmi Party (AAP) has been accused of corruption from Delhi to Punjab. During […]

चंदा और सरकारी धन के खर्च का हिसाब क्यों नहीं देती ‘आप’?

चंदा और सरकारी धन के खर्च का हिसाब क्यों नहीं देती ‘आप’?

आम आदमी पार्टी का ताज़ा विवाद गौर तलब है. इससे एक बार फिर टीम अन्ना और अरविंद केजरीवाल की चौकड़ी के भ्रष्टाचार से लड़ने के उन खोखले दावों की पोल खुल कर सामने आ गई है, जो वे पिछले 5 सालों से करते आ रहे थे. कपिल मिश्रा के आरोपों से पहले दिल्ली से लेकर […]

PATH TO KASHMIR’S SOLUTION

PATH TO KASHMIR’S SOLUTION

PATH TO KASHMIR’S SOLUTION We were told that surgical strike was a decisive blow to Pakistan and it had been taught an appropriate lesson. Then we were made to believe that demonetisation would break the backbone of terrorism and naxalism. It was hoped that such incidents would cease. But there doesn’t seem to be any […]

‘बहादुरशाह ज़फर के अवशेष रंगून से वापस लाये जाएँ’

‘बहादुरशाह ज़फर के अवशेष रंगून से वापस लाये जाएँ’

आज 1857 के महासंग्राम की 160वीं सालगिरह है. 10 मई 1857 को भारत के जांबाज सैनिकों ने मेरठ में ब्रिटिश हुकूमत के खिलाफ विद्रोह का बिगुल फूंका था। देश को गुलामी की जंजीरों से आजाद कराने के मकसद से वे मेरठ से 10 मई को चलकर 11 मई को दिल्ली पहुंचे और बादशाह बहादुरशाह जफर […]

Request to bring back the mortal remains of Bahadur Shah Zafar to Pranab Mukherjee, President of India

Request to bring back the mortal remains of Bahadur Shah Zafar to Pranab Mukherjee, President of India

Date: 4 May 2013 Memorandum His Excellency Shri Pranab Mukherjee President of India Sub. : Request to bring back the mortal remains of Bahadur Shah Zafar. Most Respected Sir The Socialist Party would like to request you to direct the Indian government to bring back the mortal remains of Bahadur Shah Zafar from Rangoon (presently […]

Why and How “Secularism” in Our Constitution

Why and How “Secularism” in Our Constitution

Why and How “Secularism” in Our Constitution Ravi Kiran Jain Any discussion on secularism would need first to focus on two basic aspects: Firstly, the word ‘secularism’ has no substitute in any of our languages. Like the ‘war’ is the opposite word of ‘peace’, in common parlance in the Indian context, ‘secularism’ is understood by […]