संविधान विरोधी भारत छोड़ो

10 अप्रैल 2017
प्रेस रिलीज़

सोशलिस्ट पार्टी 9 अगस्त को दिल्ली में ‘संविधान विरोधी भारत छोड़ो’ रैली निकालेगी

सोशलिस्ट पार्टी (इंडिया) की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक 9 अप्रैल को दिल्ली में पार्टी अध्यक्ष डॉक्टर प्रेम सिंह की अध्यक्षता में संपन्न हुई. बैठक में 15 राज्यों – नागालैंड, मणिपुर, आसाम, पश्चिम बंगाल, गुजरात, बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, महाराष्ट्र, केरल के प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया. तमिलनाडु, कर्नाटक, आन्ध्र प्रदेश, राजस्थान के प्रदेशाध्यक्षों ने राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के लिए अपनी रिपोर्ट भेजी.

बैठक में फैसला लिया गया की सोशलिस्ट पार्टी, ‘भारत छोड़ो दिवस’ की 75वीं सालगिरह के मौके पर, आगामी 9 अगस्त को दिल्ली में ‘संविधान विरोधी भारत छोड़ो’ रैली का आयोजन करेगी. इस रैली के लिए पूरे देश से हजारों की संख्या में सोशलिस्ट पार्टी के कार्यकर्ता दिल्ली में जुटेंगे. सहमना संगठनों और लोगों से रैली में शामिल होने की अपील की जायेगी. अगले चार महीने अभियान चला कर सोशलिस्ट पार्टी मौजूदा केंद्र सरकार के संविधान विरोधी चरित्र का पूरे देश में खुलासा करेगी.

बैठक में देश के राजनीतिक-आर्थिक-सामाजिक हालातों पर विस्तार से चर्चा के बाद प्रस्ताव पास किया गया. बैठक में खास तौर पर कश्मीर के हालात पर गहरी चिंता जताई गई. श्रीनगर लोकसभा उपचुनाव में हुई हिंसा, जिसमें 8 लोगों की सुरक्षा बलों की गोली से मौत हो गई, और केवल 7. 14 फीसद मतदान बताता है कि कश्मीर के हालात बद से बदतर होते जा रहे हैं. इसके लिए केंद्र की भाजपा सरकार और जम्मू और कश्मीर में उसकी सहयोगी पीडीपी सरकार जिम्मेदार हैं. देश में सांप्रदायिक उन्माद फ़ैलाने में लगे आरएसएस और भाजपा कश्मीर समस्या को केवल साम्प्रदायिक नज़रिए से देखते हैं. सोशलिस्ट पार्टी का मानना है कि कश्मीर में हालात और न बिगडें और वहां जीवन सामान्य हो सके, इसके लिए एक नई राष्ट्रीय पहल होनी चाहिए. इसमें राजनीतिक पार्टियों के साथ सामाजिक, सांस्कृतिक और धार्मिक संगठनों के प्रतिनिधियों को शामिल किया जाना चाहिए. बैठक में कश्मीरी युवाओं से अपील की गई कि वे सैन्य बलों पर पथराव करना बंद करें और संविधान के दायरे में समस्या का लोकतांत्रिक और शांतिपूर्ण तरीके से हल निकालने की नई पहल में शामिल हों. समस्या के हल की नई पहल में घाटी से विस्थापित कश्मीरी पंडितों की वापसी सुनिश्चित की जाए.

बैठक में पारित प्रस्ताव संलग्न है.

डॉक्टर अभिजीत वैद्य
प्रवक्ता
मोबाइल : 9822090755

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *